गुरुवार, 28 जनवरी 2010

25.भ्रष्टाचार से सम्बंधित शिकायतों की स्थिति

 सेवा में, 
लोक सूचना अधिकारी
(विभाग का नाम)
(विभाग का पता)

विषय : सूचना के अधिकार अधिनियम, 2005 के तहत आवेदन।

महोदय,
कृपया निम्नलिखित सूचना उपलब्ध् कराएं -

1. केन्द्रीय सतर्कता आयोग द्वारा दिनांक ..............से .................... के बीच प्राप्त की गई शिकायतों का संक्षिप्त विवरण, क्या शिकायत गुमनाम थी, शिकायत की तिथि, उस अधिकारियों या प्राधिकरण का पूरा विवरण (नाम, पद तथा संपर्क का पता आदि) जिसके खिलाफ शिकायत की गई है।

2. उपयुर्क्त में से कौन सी शिकायतें तुरन्त ख़ारिज़ कर दी गई तथा कौन सी आगे की जांच के लिए स्वीकार की गईं। केस के अनुसार शुरूआती जाँच की तिथि या ख़ारिज करने का संक्षिप्त कारण का विवरण भी दें।

3. आगे की जांच के लिए स्वीकार की गई शिकायतों में से कितने मामलों में जांच बन्द हो चुकी है? प्रत्येक के बन्द होने का संक्षिप्त विवरण दें।

4. विभिन्न कानून, नियम, निर्देश, प्रकिया, मैन्युअल आदि के अनुसार केन्द्रीय सतर्कता आयोग में शिकायत दर्ज कराने के बाद कितने समय बाद जांच पूरी हो जाती है। कृपया ऐसे दिशानिर्देशों की प्रति उपलब्ध् कराएं, जिसमें शिकायत प्राप्ति से लेकर उस पर कार्रवाई और दण्डारोपण तक के विभिन्न चरणों के लिए समय सीमा का वर्णन हो।

5. दिनांक.............से अब तक आयोग को कुल कितनी शिकायतें प्राप्त हुई हैं? उनमें से कितनी तत्काल ख़ारिज कर दी गई तथा कौन-कौन सी आगे की जांच के लिए रखी गई? जांच के लिए रखी गई शिकायतों में से कितनी शिकायतों की छानबीन में उपरोक्त समय सीमा का पालन किया गया?

मैं आवेदन फीस के रूप में 10रू अलग से जमा कर रहा /रही हूं।
या
मैं बी.पी.एल. कार्ड धारी हूं इसलिए सभी देय शुल्कों से मुक्त हूं। मेरा बी.पी.एल. कार्ड नं..............है।

यदि मांगी गई सूचना आपके विभाग/कार्यालय से सम्बंधित नहीं हो तो सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 की धारा 6 (3) का संज्ञान लेते हुए मेरा आवेदन सम्बंधित लोक सूचना अधिकारी को पांच दिनों के समयाविध् के अन्तर्गत हस्तान्तरित करें। साथ ही अधिनियम के प्रावधानों के तहत सूचना उपलब्ध् कराते समय प्रथम अपील अधिकारी का नाम व पता अवश्य बतायें।

भवदीय

नाम:
पता:
फोन नं:

संलग्नक:
(यदि कुछ हो)

20 टिप्‍पणियां:

Satyendra Soni ने कहा…

mahoday sadar namaskar maine sun 2013 me suchna ke adhikar ke taht jankari mangi thi pahle to unhone kahi ki aap keval ek baar me ek prasn ka hi apko suschna milega jispar maine ek prasna kiya fir adhikario ne samay sima ke bhitar koi jawab nahi diya jis par maine prathm yachika dayar ki parntu us par bhi unhone koi dhyan nahi diya ab mai dutiya yachika ka avedan dena chahta hu kripya avedan ka prarup mujhe Email kari mera Email Hai satyendra.soni3@gmail.com

Mrityunjay Dubey ने कहा…

मैने बकसर जिले के चौसा अंचल के पवनी पंचायत से संबंधित अनेको सुचनाए नियमो के तहत जानकारी मागी पर 3-4 माह बाद भी हमे अभी तक कोई सुचना न मिली उलटे हमको धमकी कुछ लोगो के दवारा दी गई की यहा इसी तरह काम सभी करते है पर सभी ईमानदार तो नही है!मैने परथम अपील अधिकारी को अपील भेजा तब उनहोने 156 रुपये जमा के लिए पहली बार हाथो हाथ चिटठी मेरे पास भेजवाए!यह है मेरे यहा का कानुन जो नियमो के तहत महिला मुखिया की जगह पुरुष पति सारे निरदेश देतेहै !जय हो बिहार आपकी जयजयकार है!

Unknown ने कहा…

क्रपया कानपुर के लिये प्रथम अपीलीय अधिकारी का नाम व पता बताये

Onkar Singh ने कहा…

प्रथम अपील मे सुनवाई मे विभाग द्धारा भेजे प्रतिवेदन मे सूचना आधिकारी के हस्ताक्षर नही थे उसमे साथ सहपत्र थे उनका अपील से कोई सम्वंध नही जानकारी के लागत भरे जाने की सूचना भी सलग्न थी जो मुझे भेजी बताई गई पर मुझे प्राप्त बताई गई
फिर आदेश मे कहा गया किं जानकारी सशुल्क जमा र्की जावे । मुझे नियमनुसार जानकारी निशुल्क मिलनी थी
क्या शिकयात करे या द्वितीय अपील।

praveen tyagi ने कहा…

आरटीआई के माध्यम से भी गलत और भ्रामक सूचनाएं अधिकारियों के द्वारा दी रही हैं

praveen tyagi ने कहा…

आरटीआई के माध्यम से भी गलत और भ्रामक सूचनाएं प्रदान की जा रही हैं अधिकारियों के द्वारा

Unknown ने कहा…

मैं ग्राम पंचायत डीह बलई तहसील कुंडा जिला प्रतापगढ़ से हुँ मैं ने आर टी आई द्वारा रिपोर्ट मांगा था हमे 36 दिन हो गए आज तक हमे रिपोर्ट नही दी गयी आगे हम कहा क्या करे जिससे हमें रिपोर्ट प्राप्त हो सके

pankaj ने कहा…

यदि आपको ऐसा लगता है कि दी गई सूचना गलत और भ्रामक करने वाली है। बेझिझक प्रथम अपील फिर द्वितीय भेजे

Pankaj ने कहा…

द्वितीय अपील

Pankaj ने कहा…

सभी प्रपत्रो की छायापृती सम्बन्धित विभाग के प्रथम अपीलीय अधिकारी को भेजे ।

Unknown ने कहा…

Mohoday nibedan h k dist- Bharatpur teh-bayana atal seva kendra per adhar card update yea naya adhar card banwane k 50 rupay per person se lyee jaa rhe h jabki se hamari sarker k trf se bilkul nishulak h krapya es jaldi se jaldi karwaye kre..

Unknown ने कहा…

सूचना आयोग उत्तर प्रदेश द्वारा एक साल हो जाने के वाद भी सूचना नहीं दी और अभी बिचर अधीन चला रहा है

Unknown ने कहा…

Kriya batane ka kast karen ki uttar pradesh sarkar ki karyadayi sanstha me vyapt bhrastachar ke viruddh suchana mangi thi abhi tak nahi muli appeal karna hai kahan karon kripya appeal ka paroop mere email par bhenjen

Unknown ने कहा…

क्या मैं किसी की परचूनी की दुकान की जानकारी ले सकता हूं।जैसे उसकी दुकान में बिजली कितनी खर्च की गई।रजिस्ट्रेशन नंबर क्या है। कंप्यूटरराइज्ड बिल आदि।
कृपया उत्तर देने का कष्ट करें।

बेनामी ने कहा…

पुलिस इंस्पेक्टर ने मोटी रकम रिश्वत लेने के कारण झूठा मुकदमा लिखा और पैसे लेकर खतम किया इसके लिए कैसे आरटीआई होगी और क्या क्या प्रश्न पूछे जायेगें

Birsa Soy ने कहा…

मेरे द्वारा पोस्ट किया गया सवाल का जबाब की सूचना मुझको अवश्य दिया जाये

Birsa Soy ने कहा…

झारखंड राज्य में इन दिनों सूदखोरों ने तंडव मचा के रखा है इसके ऊपर कानूनी करवाई कैसे किया जा सकता है इसका सुझाव दिया जाये।

Suchna Ka Adhikar ने कहा…

Sarkari karmachari Bijli office ka jo bhi karmachari Jahan Bhi Jaate Hain garibo se Paise Ki Maang Karte Hain Har Jagah Tumko Ghosh chahiye abhi kaam Hota Hai Aisa Kyu Hota Hai sir

Unknown ने कहा…

Prayagraj Uttar Pradesh ke soram tahseel me purn roop se bhu mafiyao ka kabja hai jisme kai log benami sampatti ka bainama le rakhe hai aur kai log dusro ki jameen yaha tak ki Makan ki bhi bikri kar dete hai aur yadi sikayat karo to lekhpal aur kanungo Ko janch di jati hai jisme lekhpal moti rakam roshwat ke roop me lete hai aur na dene pe uske bipreet Kam karke bhu mafiyao ki or mil jate hai yaha par garibo Ko nyayay milna dubhar ho gya hai aur sarkar Ko badnam karte hai ki upar wale lete hai yadi ham na lenge to dege kaise

Ye Uttar Pradesh me yogi raj me bhu mafiyao ka Raj

Nahi Hoti koi karywahi


Online sikayat ka ka nahi hota uchit nistaran

Ye hai sach

Unknown ने कहा…

मेरे द्वारा बिजली विभाग से सूचना मांगी थी जनसूचना अधिकारी ने पत्र में लिखा है कि आप को सूचना मांगने का अधिकार नही है केवल नागरिक को है अब हम क्या करें